What is Financial Goal in Hindi_Financial Goal kya hai

फाइनेंसियल गोल क्या है? | What is Financial Goal in Hindi

Financial Goal in Hindi: फ्रैंड्स, जीवन के विभिन्न उद्देश्यों को पूरा करने के लिए एक बेहतर फाइनेंसियल प्लानिंग की जरूरत प्रत्येक व्यक्ति को होती है।

फाइनेंसियल गोल को हिंदी भाषा में (Financial Goal Meaning in Hindi) – वित्तीय लक्ष्य कहा जाता है।

भारत जैसे विकासशील देश में जहां प्रत्येक व्यक्ति के खर्चे उसकी औसत आमदनी की तुलना में अधिकतर मामलों में ज्यादा होते है। जहां प्रत्येक व्यक्ति की परिवारिक, सामाजिक और आर्थिक जिम्मेदारियां ज्यादा ही होती हैं।

इन जिम्मेदारियों को पूरा करने के लिए हमें सही समय पर पर्याप्त मात्रा में धन की जरूरत होती है।

हमारे इन इन सभी फाइनेंसियल गोल्स को फाइनेंसियल प्लानिंग की मदद से पूरा किया जा सकता है।

फाइनेंसियल गोल क्या है? (Financial goals kya hai?)

भविष्य के इन सभी हमारे लक्ष्यों को हम फाइनेंसियल गोल (Financial Goal) के रूप में पहचान कर उसकी फाइनेंसियल प्लानिंग करते हैं, जैसे:

धन निर्मित करना (Wealth Creation)

दैनिक वस्तुओं की कीमतों में लगातार होने वाली वृद्धि, बढ़ती हुई महंगाई को दर्शाती है और बढ़ती हुई इस महंगाई से निपटने के लिए आपके पास पर्याप्त मात्रा में धन का होना आवश्यक है।

इसका मतलब अगर आप अपने जीवन स्तर को आगे भविष्य में भी बेहतर बनाए रखना चाहते हैं, तो आपके पास भविष्य पर्याप्त मात्रा में फंड होने चाहिए।

आप भविष्य में कार, मकान या और कोई वस्तु खरीदना चाहते हैं तो इन सबके लिए आपके पास पर्याप्त मात्रा में धन का होना जरूरी है।

आप अपने इन सभी फाइनेंसियल गोल को सही निवेश रणनीति के साथ पूरा कर सकते हैं। आप निवेश के विभिन्न माध्यम जैसे इक्विटी, म्यूच्यूअल फंड या एसआईपी, एफडी इत्यादि में निवेश कर अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं।

बच्चों की शिक्षा (Children’s Education)

फ्रैंड्स, भारत समेत पूरी दुनिया में आज शिक्षा बहुत महंगी होती जा-रही है और इस महंगी शिक्षा को वहन करना सभी पैरंट्स के लिए एक बहुत बड़ी आर्थिक चुनौती हो गई है।

आने वाले समय में भी शिक्षा की लागत बढ़नी ही है।

आपको बच्चे के जन्म के समय से ही फाइनेंसियल प्लानिंग की शुरुआत करनी होगी। फिर एक समय के बाद आप अपने बच्चे की शिक्षा के दायित्वों को पूरा कर पाएंगे।

आप कैलकुलेशन करें कि, आने वाले समय में आपको अपने बच्चे की शिक्षा के लिए कितनी मात्रा में फंड की आवश्यकता होगी उसके हिसाब से आपको एक लॉन्ग टर्म निवेश की योजना बनानी होगी।

टैक्स सेविंग (Tax Savings)

फाइनेंसियल गोल को पूरा करने में फाइनेंसियल प्लानिंग की भूमिका महत्वपूर्ण होती है।

फाइनेंसियल प्लानिंग इस प्रकार होनी चाहिए कि, एक ओर आपका एक बेहतर निवेश विकल्प तैयार हो सके वहीं दूसरी ओर इस निवेश से आपको कर भुगतान करने में भी लाभ मिले सके।

इसका मतलब आपको अपनी फाइनेंसियल प्लानिंग ऐसी करनी होगी, जिससे अपने कर भुगतान की मात्रा को आप कम से कम कर सकें।

इस प्रकार आपके जीवन और परिवार से जुड़े हुए सभी लक्ष्य और उसे प्राप्त करने के लिए लगने वाले पैसों की आवश्यकता को आप फाइनेंसियल गोल के रूप में पहचान करते हैं। फाइनेंसियल गोल प्राप्त करने के लिए एक बेहतर फाइनेंसियल प्लानिंग को तैयार करने की ज़रूरत होती हैं।

रिटायरमेंट प्लानिंग (Retirement Planning)

30 से 35 सालों की सर्विस के बाद आगे आप रिटायर हो सकते हैं। रिटायरमेंट के बाद के जीवन के लिए एक व्यवस्था करना हम सभी के लिए बहुत जरूरी होता है।

रिटायरमेंट के बाद एक सुखी और आनंददायक जीवन व्यतीत करने के लिए आपको एक अच्छे आर्थिक सुरक्षा तंत्र को बनाना जरूरी होता है क्योंकि रिटायरमेंट के बाद सर्विस के जैसी नियमित आय आपकी नहीं रह पाती है।

रिटायरमेंट की प्लानिंग आपको अपने सर्विस की शुरूआत से ही करनी होती है, ताकि भविष्य की अनिश्चितताओं से सुरक्षा मिल सके।

25 से 30 सालों के नियमित निवेश से आपके पास रिटायरमेंट के बाद एक अच्छा फण्ड तैयार हो जाता है।

अगर आप थोड़ी थोड़ी मात्रा में निवेश करते हैं और जितनी जल्दी इसकी शुरुआत करते हैं तो आगे भविष्य में आपको लाभ उतना ही ज्यादा होता है

कंपाउंडिंग का लाभ आपके लॉन्ग टर्म निवेश के फंड को बढ़ा देता है, जिससे  रिटायरमेंट के बाद मिलने वाला पेंशन या आय आपके लिए संतुष्टिदायक होता है।

निष्कर्ष (Conclusion)

आशा करता हूँ कि, आपको यह आर्टिकल फाइनेंसियल गोल क्या है? (What is Financial Goal in Hindi) पढ़कर अच्छा लगा होगा और फाइनेंसियल गोल से जुड़ी ये जानकारियां आपके लिए फायदेमंद रही होगी।

अगर आपको फाइनेंसियल गोल (Financial Goal kya hai) से जुड़ा यह आर्टिकल पसंद आया हो तो अपने परिचितों और शेयर मार्केट/फाइनेंसियल सेक्टर को जानने-सीखने के लिए इच्छुक लोगों के साथ इसे शेयर ज़रूर करें।

इस विषय पर आपके और कोई आपके प्रश्न है, तो आप नीचे Comment Section में ज़रूर लिखें। हम आपके सवालों का जवाब देने प्रयास करेंगे। शेयर मार्केट और फाइनेंसियल प्लानिंग जुड़ी नयी जानकारियों के लिए इस वेबसाइट से जुड़े रहें।

इन्हें भी विस्तार से पढ़ें (Related Post) –

Share this:

Leave a Comment

error: Content is protected !